stoneग्रह उपचार

 हम लाये हैं आपके सुखी संपन्न जीवन के लिए अद्भुत और सटीक उपायों का खजाना। ग्रहों के प्रभाव और कुप्रभाब की प्रमाणिक जानकारी और उपचार के लिए एक बार जरूर कॉल करें। साथ ही सबसे सस्ता और सही रत्न प्राप्त करने के लिए जरूर आर्डर करें।


रत्नों में अद्भूत शक्ति होती है. रत्न अगर किसी के भाग्य को आसमन पर पहुंचा सकता है तो किसी को आसमान से ज़मीन पर लाने की क्षमता भी रखता है. S.B.Karn
CALL OR MAIL for more Detail...09934238151(email mvjcandpc@gmail.com)


प्राचीन काल से रोगों के उपचार हेतु रत्नों का प्रयोग विभिन्न रूपों में किया जाता रहा है.रत्नों में चुम्बकीय शक्ति होती है जिससे वह ग्रहों की रश्मियों एवं उर्जा को अवशोषित कर लेती है|
जिस ग्रह विशेष का रत्न धारण करते हैं उस ग्रह की पीड़ा से बचाव होता है और सकारात्मक प्रभाव प्राप्त होता है.रत्न चिकित्सा का यही आधार है.

बृहस्पति से सम्बन्धित रोग और रत्न 
our rate.....Rs. 11000 - 15000.
8 Carat Certified Yellow Sapphire Stone5.7 Ratti Certified Yellow Sapphire Gemstone7.2 Ratti Certified Yellow Sapphire Gemstone
ग्रहों में बृहस्पति को गुरू का स्थान प्राप्त है.इस ग्रह के अधीन विषय हैं गला, पेट, वसा, श्वसनतंत्र.कुण्डली में जब यह ग्रह कमजोर होता है तो व्यक्ति कई प्रकार के रोग का सामना करना होता हे.व्यक्ति सर्दी, खांसी, कफ से पीड़ित होता है.गले का रोग परेशान करता है, वाणी सम्बन्ध दोष होता है.पीलिया, गठिया, पेट की खराबी व कीडनी सम्बन्धी रोग बृहस्पति के कारण उत्पन्न होता है.रत्नशास्त्र में पुखराज को बृहस्पति का रत्न माना गया है.इस रत्न के धारण करने से शरीर में बृहस्पति की उर्जा का संचार होता है जिससे इन रोगों की संभावना कम होती है एवं रोग ग्रस्त होने पर जल्दी लाभ मिलता है.
CALL OR MAIL for more Detail...09934238151(email mvjcandpc@gmail.com)
शुक्र से सम्बन्धित रोग और रत्न
शुक्र ग्रह सौन्दय का प्रतीक होता है.यह त्वचा, मुख, शुक्र एवं गुप्तांगों का अधिपति होता है.कुण्डली में शुक्र दूषित अथवा पाप पीड़ित होने पर व्यक्ति को जिन रोगों का सामना करना होता है उनमें गुप्तांग के रोग प्रमुख हैं.इस ग्रह के कारण होने वाले अन्य रोग हैं तपेदिक, आंखों के रोग, हिस्टिरिया, मूत्र सम्बन्धी रोग, धातु क्षय, हार्निया.इस ग्रह का रत्न मोती  है जो अंतरिक्ष में मौजूद इस ग्रह की रश्मियों को ग्रहण करके इसे  व्यक्ति को स्वास्थ्य लाल मिलता है.  ज्योतिष के अनुसार आपके लिये कौन सा ग्रह अनुकूल है इसके लिये आप  कर सकते हैं Call ...Mobile n. 09934238151
(email mvjcandpc@gmail.com)
शनि से सम्बन्धित रोग और रत्न 
Rs.8000-14000.
4.1 Carat Certified Blue Sapphire Stone6.1 Carat Certified Blue Sapphire Stone3.3 Carat Certified Blue Sapphire Stone
ज्योतिषशास्त्र में शनि को क्रूर ग्रह कहा गया है.इस ग्रह का प्रिय रंग काला और नीला है.इस ग्रह का रत्न नीलम  है.जिससे नीली आभा प्रस्फुटित होती रहती है.इस रत्न को बहुत ही चमत्कारी माना जाता है.इस रत्न को धारण करने से शनि से सम्बन्धित रोग जैसे गठिया, कैंसर, जलोदर, सूजन, उदरशूल, कब्ज, पक्षाघात, मिर्गी से बचाव होता है.जो लोग इन रोगों से पीड़ित हैं उन्हें इस रत्न के धारण करने से लाभ मिलता है. 
रत्नों में चमत्कारी शक्ति है जो ग्रहों के विपरीत प्रभाव को कम करके ग्रह के बल को बढ़ते है. आइये जानें कि भाग्य को बलवान बनाने के लिए रत्न किस प्रकार धारण करना चाहिए.

CALL OR MAIL for more Detail...09934238151(email mvjcandpc@gmail.com)

 4.7 Ratti Certified Emerald Gemstone3.9 Ratti Certified Emerald Gemstone(panna Rs. 8000-18000)










3.6 Carat Certified Emerald Stone
 6.1 Ratti Certified Ruby Gemstone5.9 Ratti Certified Ruby Gemstone(manik Rs. 5000-10000)



For 100% original stones  >

MAA BINDHWAASINI STONE CUTTING & pollishing Centre
Srikrishna Nagar, Aurangabad, Bihar 824101
CALL OR MAIL for more Detail...09934238151(email mvjcandpc@gmail.com)
Post a Comment
Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...