Showing posts with label किसान. Show all posts
Showing posts with label किसान. Show all posts

Monday, 13 April 2015

अन्न -दाता ……।

Image result for farmer

कुदरत की मार से ;
खेत -खलिहान है  I 
कौन बचायेगा इन्हें ;
 मर रहा  किसान है II 

ओले नही गोले गिरे ;
खेतो के सीने में I 
अब क्या रखा है  ;
 भूखे पेट जीने में II 

मिटटी  के लाल ही ;
मिट्टी में मिल रहे  l 
फूल बोया खेत में ;
काँटे हैं खिल रहे  l 

लहूलुहान जिस्म है;
 चिलचिलाती धूप में  l 
डाल रहा डोल है ;
सूखे पड़े कूप में  ll 

अन्न- दाता  बना भिखारी ;
दाने-दाने को मोहताज हैl 
हे"राम "तेरे जग में;
 कैसा यह रिवाज है    ll         
Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...